बड़ी खबर – जिले के शत-प्रतिशत बच्चों को अच्छी शिक्षा उपलब्ध हो-कलेक्टर श्री भीम सिंह कलेक्टर ने की शिक्षा गुणवत्ता की समीक्षा…..

Plz Share

जिले के शत-प्रतिशत बच्चों को अच्छी शिक्षा उपलब्ध हो-कलेक्टर श्री भीम सिंह कलेक्टर ने की शिक्षा गुणवत्ता की समीक्षा…..

रायगढ़, 22 अक्टूबर 2020/ कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में वर्तमान समय में स्कूली बच्चों को प्रदान की जाने वाली शिक्षा के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी और सभी बीईओ और बीआरसी की बैठक ली। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय शिक्षा के लिये बहुत चुनौती भरा है और इस चुनौती का सामना सभी शिक्षकों को मिलकर करना होगा। सभी शिक्षकों को यह प्रयास करना होगा कि उनके स्कूल में पढऩे वाला कोई भी छात्र शिक्षा से वंचित न रहे और यह भी तय करना है कि छात्रों को ऑनलाईन शिक्षा प्रदान करने के लिये कितना अच्छा प्रयास किया जा सकता है।

कलेक्टर श्री सिंह ने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि जिले में जहां मोबाइल कनेक्टिविटी है उन स्थानों के शत-प्रतिशत बच्चे ऑनलाईन कक्षाओं से जुड़े और कोई यदि छात्र ऑनलाईन क्लास में नहीं भाग ले रहा है उन कारणों का पता लगायें। उन्होंने जिले के सभी बीईओ और बीआरसी को निर्देशित किया कि उनके क्षेत्र के सभी ग्राम पंचायतों में स्वयं जाकर पता लगायें कि ग्राम पंचायत भवन में ब्राडबैण्ड सुविधा उपलब्ध है कि नहीं और जिन ग्राम पंचायत में ब्राडबैण्ड उपलब्ध हो वहां पंचायत भवन परिसर में वार्ई-फाई के माध्यम से बच्चों को ऑनलाईन क्लास से जोड़कर शिक्षा उपलब्ध करावें और ग्राम पंचायतों में ब्रांडबैण्ड सुविधा उपलब्ध होने की जानकारी प्रस्तुत करें। कलेक्टर श्री सिंह ने रायगढ़ में संचालित होने वाले अंग्रेजी माध्यम स्कूल के लिये चिन्हांकित भवन में सुधार कार्यों के प्रगति की जानकारी ली और भवन के उन्नयन कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने आगामी सत्र से प्रत्येक विकासखण्ड में एक-एक स्कूल को मॉडल स्कूल के रूप में विकसित करने के लिये अभी से तैयारी प्रारंभ करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री ङ्क्षसह ने जिले में ‘पढ़ई तुंहर दुआर’ और ‘सीख’ अभियान के तहत चलाये जा रहे शिक्षा कार्यक्रम की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जिन स्थानों पर वालेंटियर के माध्यम से कक्षायें संचालित की जा रही है वहां नियमित शिक्षक समीक्षा करते रहे और कमी पाये जाने पर शिक्षा वालेेंटियर को बदल दिया जाये। कलेक्टर श्री सिंह ने शिक्षा का अधिकार (आरटीई) के तहत कमजोर वर्ग के जिन छात्रों का प्रवेश निजी स्कूलों में हुआ है उन छात्रों को संबंधित निजी स्कूलों द्वारा किस प्रकार शिक्षा दी जा रही है इसकी जानकारी प्राप्त करने और इन बच्चों को भी निजी स्कूलों द्वारा चलाये जा रहे ऑनलाईन कक्षाओं से जोडऩे के निर्देश दिये। उन्होंने जिले के सभी शिक्षकों को 11 वीं और 12 वीं कक्षाओं में पढऩे वाले छात्रों को पाठ्य पुस्तके क्रय करने के लिये प्रेरित करने के निर्देश दिये जिससे कि इन कक्षाओं में पढऩे वाले छात्र भविष्य में कालेजों की पढ़ाई के लिये और सक्षम हो सकेंगे।

बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी ने कलेक्टर श्री सिंह को बताया कि वर्तमान में 92 प्रतिशत छात्र ऑनलाइन कक्षाओं से शिक्षा प्राप्त कर रहे है। उन्होंने जिले में पढ़ई तुंहर दुआर और सीख कार्यक्रम के तहत चल रही कक्षाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी और प्रत्येक विकासखण्ड में ऑनलाईन क्लास से जुडऩे वालों छात्रों की संख्या के बारे में बताया। बैठक में सीईओ जिला पंचायत सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी एवं जिला शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारी तथा सभी बीईओ एवं बीआरसी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *